न्यूज नेशनल / समाचार पत्रिका व अखबार,

हरिद्वार बहादराबाद / हरिद्वार बहादरा बाद पुलिस के होश उस समय उड़ गए ज़ब उन्हें सूचना मिली की बहादराबाद टोल से एक काली सकार्पियो कार गुजरने वाली है ओर उस कार मे एक बम भी है जिसे कार मे ही कहीं टिफिन मे पैक करके छिपाकर लाया जा रहा है, बहादरा बाद पुलिस की काबिले तारीफ़ रही की बिना देरी किये  कुछ ही देर मे टोल के आस पास के क्षेत्र की घेराबंदी की तैयारियां कर कर डाली, हालाकी पुलिस की इस घेराबंदी को देख आस पास के लोगों मे थोड़ा देहशत का माहौल भी बना ओर लेकिन लोग पूरा माजरा समँझ पाते उससे पहले ही पुलिस नें बदमाशों को बहादरा बाद टोल प्लाजा पर ही ऐसे दबोच लिया,की कोई भी बदमाश न तो आगे निकल कर भाग सका ओर न ही वापस, जिसके बाद हरिद्वार एसएसपी द्वारा सभी पुलिसकार्मियों की पीठ भी थपथपाई, ओर सभी को इसी तरह हर परिस्थिति मे काम करने की नशीहत भी दी,

बता दें की शाम वायरलेस सेट के माध्यम से एक UK 07 नंबर की काली स्कॉर्पियो में सवार अज्ञात बदमाशों द्वारा जनपद में किसी बड़ी घटना को अंजाम देने के लिए विस्फोटक सामग्री लेकर आने की गुप्त सूचना प्रसारित की गई। स्कॉर्पियो का संभावित रूट रुड़की-हरिद्वार हाइवे होने की सूचना पर तत्काल थाना प्रभारी बहादराबाद द्वारा उच्चाधिकारियों को अवगत कराते हुए फोर्स को आवश्यक अस्लाह, लाठी-डंडों, बॉडी प्रोटेक्टर आदि सुरक्षा उपकरण सहित थाना क्षेत्र के भिन्न-भिन्न स्थानों पर सघन चेकिंग अभियान चलाया गया।

दौरान चेकिंग गाड़ी का मॉडल और नम्बर वेरिफिकेशन करते हुए पुलिस टीम ने बहादराबाद टोल पर दोनो तरफ से घेराबंदी कर उक्त संदिग्ध वाहन को रोका। फोर्स द्वारा तत्काल संदिग्ध वाहन को कवर करते हुए बदमाशों को आत्मसमर्पण के लिए मजबुर करते हुए वाहन के दरवाजे में छिपाया हुआ टिफिन बरामद किया गया।

आगामी मकर संक्रांति स्नान पर्व एवं 26 जनवरी के दृष्टिगत मॉक ड्रिल की मॉनीटरिंग कर रहे एसएसपी अजय सिंह ने रिएक्शन टाइम, घेराबंदी और सुरक्षा उपाय के साथ संदिग्ध को आत्मसमर्पण के लिए विवश करने पर फोर्स की पीठ थपथपाई। साथ ही श्री अजय सिंह द्वारा ऐसे मौके पर सुरक्षा उपकरण, अस्लाह एवं बैरिकेडिंग दुरुस्त रखने के भी निर्देश दिए।

इस दौरान एसएसपी अजय सिंह द्वारा आगामी पर्वों के दृष्टिगत जनपद पुलिस बल को हाई अलर्ट पर रहते हुए होटल, धर्मशाला, रेलवे स्टेशन, बस स्टेशन, प्रत्येक संदिग्ध इत्यादि को लगातार चेक करने हेतु अधीनस्थों को सचेत रखते हुए लगातार चेकिंग करने के भी निर्देश दिए गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You missed