• Mon. Apr 22nd, 2024

हरिद्वार पुलिस कप्तान प्रमेन्द्र सिंह डोभाल ने स्वयं कि मॉनिटरिंग और कर डाला एक और धमाकेदार खुलासा,अभिभावक के रूप मे बन रहे मार्गदर्शक, पुलिस टीम कों दिया कई हजार का इनाम,

ByManish Kumar Pal

Mar 1, 2024

NEWS NATIONAL

हरिद्वार ज्वालापुर / नशे के कारोबारी हो तो स्वयं ही सुधर जाओ, हरिद्वार पुलिस के हाथ लगे तो न तो कोई बक्शिश होंगी और न ही कोई सिफारिस, अंजाम होगा तो बस जेल, हरिद्वार एसएसपी प्रमेन्द्र सिंह डोभाल द्वारा अपराध पर किये जा रहे प्रहारों ने स्पस्ट कर दिया है कि समाज मे अगर कोई परेशानी है याँ असामाजिकता अनैतिकता है तो उस पर कार्यवाही निश्चित होंगी, और अगर जरूरत पड़ी तो वे स्वयं मॉनिटरिंग करने मैदान मे उतर जाएंगे,साथ ही यह भी स्पस्ट कर दिया है कि जो कोई भी गलत धंधों में लिप्त है छोड़ेंगे नहीं, यह बड़ी कार्रवाई हरिद्वार के नशा तस्करों के लिए साफ संदेश है,जो लोग पकड़े जा रहे है उन सभी कि अलग-अलग स्थानों में फैली संपत्तियों का ब्यौरा भी जुटा रहे हैं,

अभिभावक की भूमिका निभा रहे एसएसपी प्रमेन्द्र सिंह डोबाल.

परिवार की दशा-दिशा तय करने में अभिभावक की महत्वपूर्ण भूमिका होती है और वर्तमान में जनपद हरिद्वार के पुलिस परिवार में अभिभावक की भूमिका निभा रहे एसएसपी प्रमेन्द्र सिंह डोबाल के अनुभवी एवं प्रभावशाली नेतृत्व में हरिद्वार पुलिस आए दिन एक से बढ़कर एक शानदार खुलासे कर रही है।

बता दें कि हरिद्वार पुलिस द्वारा कल चार अभियुक्तों रईस उर्फ गोलू पुत्र सईद निवासी लादपुर खुर्द लक्सर हरिद्वार,शहजाद उर्फ गड्डी पुत्र फुरकान निवासी जबरदस्तपुर रुड़की हरिद्वार,अभिषेक राजपूत पुत्र राजवीर सिंह निवासी ग्राम स्याऊ थाना चाँदपुर जिला बिजनौर उ0प्र0 हाल निवासी चोर गली सुभाष नगर ज्वालापुर,महिला पत्नी अभिषेक निवासी उपरोक्त के खिलाफ सम्बंधित धाराओं मे मुकदमा दर्ज किया गया।आरोपियों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट लगाने की तैयारी, इतना ही नही अवैध धंधे से कमाई गई इनकी संंपत्ति भी पुलिस रडार पर है

स्वयं एसएसपी प्रमेन्द्र सिंह डोभाल ने कि मॉनिटरिंग, जान लिजिये क्या है ये पूरा मामला,

एसएसपी प्रमेन्द्र डोबाल को गुप्त सूत्र के माध्यम से स्मैक की बड़ी डील होने कि सूचना मिली ।जिसके बाद एसएसपी द्वारा सीओ ज्वालापुर शांतनु पाराशर को कोतवाली ज्वालापुर एवं A.N.T.F. की संयुक्त टीम गठित करते हुए डील में शामिल हो रहे सभी तस्करों को दबोचने के कड़े निर्देश देते हुए मॉनिटरिंग का जिम्मा खुद अपने हाथ में लिया गया।

संयुक्त टीम ने आपस में अच्छा तालमेल दिखाते हुये काफी समय से पुलिस की रडार पर चल रहे रईस उर्फ गोलू, शहजाद उर्फ गड्डी के साथ-साथ आरोपी दंपत्ति को दबोचकर उनके कब्जे से कुल 308 ग्राम स्मैक, 14000/- नगदी, डिजिटल तराजू एंव डील के दौरान प्रयोग की गई i20 कार बरामद की। आरोपी दंपत्ति में से कथित पति अभिषेक कुछ समय पूर्व ही N.D.P.S ACT में जमानत पर रिहा हुआ था उसकी पत्नि N.D.P.S ACT के अभियोग मे पूर्व से वाँछित चल रही थी। बरामदा माल के आधार पर कोतवाली ज्वालापुर में इन लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया।

एसएसपी हरिद्वार की तरफ से पुलिस टीम को ₹10000 इनाम की घोषणा

पुलिस टीम ज्वालापुर– CO ज्वालापुर शांतनु पाराशर,SSI राजेश बिष्ट, विकास रावत,रविन्द्र जोशी, ललिता चुफाल, सिपाही नरेन्द्र सिंह राणा

A.N.T.F. टीम हरिद्वार– Insp. नरेन्द्र सिंह बिष्ट (प्रभारी), SI रणजीत तोमर, HC देशराज, रियाज अली, सुनील, मुकेश

Related Post

सांसदों और पत्रकारों के जूते गायब, 24 घंटे बाद भी चोरों को ढूंढ नहीं पाए सुरक्षाकर्मी, जानिये क्यों है इतने बुरे हालात जो दिन ब दिन बिगड़ ही रहे है,कहीं यें देश भुखमरी कि और तो नही,
कौन है महक यादव जो 23 साल कि उम्र में पति को छोड़कर उतर गई देहव्यार के धंधे में, देखते ही देखते बन गई देह के दलालों की सरगना,
पानी देने में की देरी तो युवक ने चलायी गोली, बाल-बाल बचा दुकानदार, मामला पहुंचा थाने,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed