• Fri. May 24th, 2024

हिंदू यवती के साथ दरिंदगी करने वाले के लव जिहादी के घर चला बुलडोजर,

ByManish Kumar Pal

Apr 22, 2024

न्यूज़ नेशनल

बता दें कि लव जिहाद के मामले में फिर जिला प्रशासन ने बड़ी कार्रवाई की है। हिंदू युवती के साथ दरिंदगी करने के आरोपित अयान पठान का घर रविवार को बुलडोजर चलाकर ढहा दिया गया।प्रशासन और पुलिस की टीम ने नानाखेड़ी पहुंचकर कार्रवाई की। शुक्रवार को टीम ने मौके पर जाकर मकान की जांच की थी। जिसे अतिक्रमण के रूप मे पाया गया ।

मामला मध्य प्रदेश का है जहाँ गुना शहर के कैंट पुलिस थाने में पीड़ित 23 वर्षीय हिंदू यवती ने बीते बुधवार को आरोपित अयान पठान के खिलाफ केस दर्ज कराया था। पुलिस ने विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर आरोपित को गिरफ्तार करने के बाद कोर्ट में पेश किया गया। इसके बाद अयान पठान के सरकारी जमीन पर बने मकान को हटाने के लिए नोटिस जारी किया गया था। रविवार को बुलडोजर के साथ पहुंची प्रशासन की टीम ने आरोपित के अवैध रूप से निर्मित मकान को ढहा दिया। कार्रवाई के दौरान गुना एसडीएम रवि मालवीय, एडिशनल एसपी मानसिंह ठाकुर सहित कई वरिष्ठ अधिकारियों के साथ पुलिस बल, राजस्व, नगरपालिका का अमला मौजूद था।

गौरतलब है कि नानाखेड़ी क्षेत्र की रहने वाली 23 वर्षीय हिंदू युवती पर अयान पठान नामक युवक शादी के लिए दबाव बना रहा था। युवती ने शादी से इनकार कर दिया। इसके बाद उसने युवती को बंधक बनाकर एक महीने तक उसके जबरदस्ती करता रहा। इस दौरान उसने यवती के साथ क्रूरता और वहशीपन तमाम हदें पार करते हुए बेल्ट व लात-घूसों से उसकी पिटाई की। मारपीट करने के बाद अयान थक गया तो उसने पीड़ित युवती की आंख और जख्मों पर मिर्ची भर दी। उसके चिल्लाने पर आरोपित ने उसके मुंह में फेवीक्विक डाल दी। किसी तरह युवती जान बचाकर अपने घर पहुंची। उसे गंभीर हालत में अस्पताल भर्ती कराया गया।

पीड़ित युवती ने पुलिस में दिए बयान में कहा था कि घर के पास रहने वाले अयान पठान ने उसे एक महीने तक बंधक बनाकर रखा। उस दौरान उसने कई यातनाएं दीं। आरोपित ने पीड़ित का शारीरिक शोषण किया, यही नहीं उसे यातनाएं देने के लिए जख्मों पर मिर्च और होंठ में फेवीक्विक भर दी थी। आरोपित उसका मकान हड़पना चाहता था। पीड़ित युवती के बयान दर्ज होने के बाद प्रशासन और पुलिस हरकत में आई और अयान को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया।

इधर, जानकारी मिली है कि हैवानियत की शिकार हुई युवती को गुना जिला अस्पताल से ग्वालियर रेफर कर दिया है। बताया रहा है कि पीड़ित की एक आंख की रोशनी चली गई है जबकि दूसरी आंख से भी कम दिखाई दे रहा है।दूसरी ओर पीड़ित युवती की मां ने आरोपित को फांसी की सजा देने की मांग की है। उन्होंने कहा कि चार दिन बीत जाने के बाद भी बेटी के जख्म नहीं गए। वह ठीक से सो भी नहीं पा रही है। यह जख्म जिंदगी भर रहेंगे। उसे एक आंख से नहीं दिख रहा है। डॉक्टर ने कहा कि सिर्फ 10 प्रतिशत की आंखों की रोशनी लौटने की उम्मीद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed